Saturday, March 22, 2008

वहीदा रहमान : मेरे पसंदीदा गीत आज आपके लिए चुनकर , पेश कर रही हूँ

उमर एक बहती नदीया है जिसके बहाव में , इंसान, ख़ुद को बदला हुआ पाता है। साथ रह जातीं हैं यादें , इस जिंदगानी के सुहाने सफर की ...इंसान के अच्छे या बुरे कर्म , ज़माना , याद करता है और जीवन नदिया , बहती रहती है ..ऐसे ही , अविरल, छ्ल , छ्ल...कल कल, पल, पल ...
ऊपर के चित्र में , तारिका शम्मी जी हैं , सुफेद साडी पहने, बीच में वहीदा जी हैं , गुलाबी जामुनी आभा लिए साडी पहने हैं और आशा पारेख हरी साडी में हैं।
इस चित्र में स्वर साम्राज्ञी  सुश्री लता मंगेशकर जी अपनी बहन आशा जी का हाथ थाम कर चल रहीं हैं .. श्री.वहीदा जी व लता जी की जोड़ी ने , ऐसे अनमोल नगमे हिन्दी गीत जगत को दी हैं जोन हम सदा गुनगुनाते रहेंगें ....
मेरे पसंदीदा गीत व नृत्य आज आपके लिए चुनकर , पेश कर रही हूँ !
सुनिए ...और अवश्य बताएं की, आपको ये गाने कैसे लगे ? गीत कई सारे हैं, पर, आज इतने ही
http://www.youtube.com/watch?v=2KEbAecACzc
सर्प नृत्य -- वहीदा रहमान
http://www.youtube.com/watch?v=5XlMuKPOZ0Q&feature=related
तेरे बचपन को जवानी की दुआ देती हूँ -- मुझे जीने दो से
http://www.youtube.com/watch?v=fDGpJ9F5eh4&feature=रेलातेद
रात भी है कुछ भीगी भीगी
http://www.youtube.com/watch?v=0LrOOvLfcQY&feature=रेलातेद
हमने देखी है इन आंखों की महकती खुशबु
http://www.youtube.com/watch?v=k6-uHRa8isY&feature=रेलातेद
बेकरार करके हमें यूँ न जाइए ~~ ये गीत हेमंत दा की सौगात है हम सब के लिए
पियानो पर वही धुन सुनिए ~~~
ahttp://www.youtube.com/watch?v=5kYlSqkS5cU&feature=related

11 comments:

मीत said...

बहुत बहुत शुक्रिया इस पोस्ट के लिए.

उन्मुक्त said...

लावण्या जी, माफी चाहूंगा, 'हमने देखी है इन आंखों की महकती खुशबू' गाना वहीदा रहमान पर नहीं फिल्माया है। यह गीत गुजराती कलाकारा स्नेहलता पर फिल्माया गया है। मैंने इसके बारे में यहां लिखा है।

Gyandutt Pandey said...

बहुत सुन्दर, इतना मधुर कि हाथ से छूने पर भी मलिन न हो - यह अहसास होता है।
पुराने गीत बहुत मधुर हैं। धन्यवाद।

कंचन सिंह चौहान said...

तेरे बचपन को जवानी की दुआ देती हूँ..... सुनकर आँखें नम हो गईं ...! धन्यवाद

मीनाक्षी said...

कई दिनों के बाद आज पहली बार ब्लॉगर की साईट खुली तो बिना समय बरबाद किए टिप्पणी देने चले आए...
कुछ गीत तो हमेशा दिल में बसे हैं..
धन्यवाद

अबरार अहमद said...

बहुत सुंदर। मजा आ गया

Lavanyam - Antarman said...

Unmikt jim
जी आप की बात सर्वथा सही है ..जैसा इस यू ट्यूब से भी जाहीर है ..पर ना जाने क्यूं, ये गीत वहीदा जी के साथ ही संबधित हो ऐसा लगता है ...आपकी प्रविष्टी भी देखती हूँ ..आपकी बात रखने के लिए आभार ..स्नेह,

- लावण्या

रजनी भार्गव said...

'हमने देखी है इन आंखों की महकती खुशबू'कभी भी सुन सकती हूँ।बाकी गाने भी सुन कर बहुत अच्छा लगा। शुक्रिया लावण्या दी।

Harshad Jangla said...

Lavanyaji

Nice links, great songs.

Thanx a lot.

रवीन्द्र प्रभात said...

भाई, इसे कहते हैं ओल्ड इस गोल्ड , मन के तार-तार झंकृत हो गए , बधाईयाँ इस पोस्ट के लिए!

Lavanyam - Antarman said...

सभी के प्रति स स्नेह ...धन्यवाद -
Rgds,
L