Tuesday, June 3, 2008

संस्कृत शब्द, कहाँ कहाँ ...

य्वेस रोशास स्वीस मूल के नागरिक हैं - इन्होंने पहली बार जेट मशीन से चालित ,पँख लगाकर आकाश में , ऊंची उड़ान भरी और एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है। आधुनिक मानव के नित नये प्रयोग, प्रगति और साहस के साथ साथ , प्राचीन भारत की भाषा , संस्कृत आज भी कई क्षेत्रों में , कई संस्थानों में सूत्र या मूलमंत्र की तरह प्रचलित है ...विश्वास न हो तो देखिए, .....संस्कृत शब्द, कहाँ कहाँ ...हैं !!

संस्कृत शब्दों का प्रयोग भारत में ही नही नेपाल, इन्डोनेशीया , जावा, बाली , सुमात्रा जैसे पूर्व के कई देशों में आज भी प्रचलित है जो भारत के साँस्कृतिक इतिहास की दूरगामी पहुँच का परिणाम है। संस्कृत सुभाषितों का उपयोग, अधिकांश , शैक्षणिक व सामाजिक संस्थानों के साथ संलग्न है। सूत्र के रूप में संस्कृत भाषा से रचे वाक्यों को पसंद किया जाता है। ठीक ऐसा ही पश्चिम में, लेटिन भाषा से रचे , सूत्र के उपयोग में भी देखा जाता है।

[click on the high lighted words to reach the web sites ]

भारतीय सार्वभौम गणन्तंत्र का सूत्र भी संस्कृत सुभाषित ही है - "सत्यमेव जयते !" जिसका अर्थ अंग्रेज़ी में होगा - "Truth alone triumphs always"

नेपाल में सूत्र है वह भी संस्कृत में ही है - " जननी जन्मभूमिस्च स्वर्गादपि गरीयसी " जिसको अंग्रेज़ी में कहेंगे - "Mother and motherland are greater than heaven"

गोआ में ये सूत्र है - " सर्वे भद्राणि पश्यन्तु,मा कस्चिद्` दुखभाग्भवेत्`" अर्थात्` अन्ग्रेज़ी मेँ "May all perceive good, may not anyone attain unhappiness"

Life Insurance Corporation of India ने पसंद किया ये सूत्र --योग्क्षेमवहाम्यहम्`"I shall take care of welfare" जिसे " भगवद गीता से लिया गया है ।

भारतीय नौसेना - Navy का सूत्र है - "शन्नो वरुण" -- "May Varuna be peaceful to us"

भारतीय वायु सेना Air Force का सूत्र कहता है , " नभ स्पर्शम्` दीप्तम " - "Touch the Sky with Glory"

भारतीय पुलिस ने ये सूत्र अपनाया " दाक्षाणय खल्`निग्रह:" "For protection of the good and control of the wicked"

Indian Coast Guard ----- "`वयम् रक्षाम" - "We shall protect"

All India Radio -- " बहुजन हिताय बहुजन सुखाय " --

"For the benefit of all, for the comfort of all"

Indonesian Navy --- "जलसेवा जयामहे" ये इन्डोनेशीया का पसँदीदा सूत्र है।

थाई, मलय आधुनिक इन्डोनेशियन, पुरानी जावानीज़ भाषा सभी में संस्कृत भाषा के कई शब्द , लिए गए अपनाए गए हैं जो आज भी प्रचलित हैं और आम बोलचाल की भाषा के अंग हैं। वियतनाम देश में भी थोड़े शब्द सुनाई दे जाते हैं जो संस्कृत से लिए गए हैं । श्री लंका के कई शब्द भी संस्कृत की देन हैं ।

नेपाल तथा भारत में, कई सारे विज्ञान तथा क़ानून , व्यवस्था से संबध शब्द संस्कृत भाषा पर आधारित हैं।
Indian guided missile program १९८३ से शुरू की गयी DRDO जिनके तहत, पाँच मिसाइल के नाम भी संस्कृत नाम हैं -- पृथ्वी, अग्नि, आकाश, नाग और त्रिशूल -- Prithvi, Agni, Akash, Nag and Trishul

भारतीय नभ सेना की शान, प्रथम लडाकू विमान का नाम भी " तेजस " ही है !

(aircraft HAL Tejas) -- अब आप बताएं, क्या आपको और कहीं संस्कृत भाषा के शब्द या सूत्र , दीखालाई दिए हैं ? अगर हां, है , तब अवश्य बताएं .......


-- लावण्या

13 comments:

DR.ANURAG ARYA said...

आप का जवाब नही......

बाल किशन said...

बहुत ही रोचक और शिक्षाप्रद लेख.
आभार.

अभिषेक ओझा said...

बहुत अच्छी जानकारी दी आपने... मुझे भी एक याद आ रहा है... दूरदर्शन पर न्यूज़ आता था तो दूरदर्शन के लोगो के नीचे 'सत्यम शिवम् सुन्दरम'लिख कर आता था.

Udan Tashtari said...

बहुत रोचक एवं लाजबाब पोस्ट, आभार इस जानकारी भरी पोस्ट का.

rakhshanda said...

bahut hi achhi jaankaari hai...thanks

Harshad Jangla said...

Lavanyaji

Wonderful info. Hats off to you!
-Harshad Jangla
Atlanta, USA

Lavanyam - Antarman said...

शुक्रिया अनुराग भाई,बाल किशन जी, अभिषेक जी, समीर भाई व रस्काँधा जी आपको ये जानकारी पसँद आयी उसकी खुशी है :)
- लावण्या

Lavanyam - Antarman said...

Thank you Harshad bhai -
glad you like this Info-post
rgds,
L

Gyandutt Pandey said...

भारत और नेपाल तो ठीक इन्दोनेशियन नेवी भी प्रयोग करती है संस्कृत बेस्ड वाक्य! पढ़ कर अच्छा लगा।
जानकारी के लिये धन्यवाद।

दिनेशराय द्विवेदी said...

सूत्रों की सूत्रबद्धता पंसद आई।

Lavanyam - Antarman said...

ज्ञान भाई साहब्,
दिनेश भाई साहब्,
आप लोगोँने मेरा प्रयास पढा
और सराहा,
तो मुझे खुशी हुई -
धन्यवाद ..प्रोत्साहन के लिये ..
- लावण्या

Mired Mirage said...

बहुत जानकारी वाली पोस्ट है। एक मित्र ने एक बार बताया था (शायद नौसेना में थे वे ) कि सर्व पश्यामि उनके दल का सूत्र है।
घुघूती बासूती

Lavanyam - Antarman said...

घुघूती जी आभार
आप यहाँ आयीं और टिप्पणी की.
-- लावण्या