Monday, May 19, 2008

मोहे पनघट पे नंदलाल छेड़ी गयो रे .. मधुबाला जी ...

मधुबाला जी पर जारी किया गया भारतीय डाक विभाग का स्टाम्प -- जिसे देखा और इस हसीं शख्शियत की फ़िर याद उमड़ने लगी ......
नाम था मुमताज़ जहां बेगम देहलवी
जन्म : १४ फरवरी १९३३ ( जी हां , वैलेंटाइन डे ) अवसान : २३ फरवरी 1969 --
बचपन से उनके पिता की मरजी के मुताबिक , बेबी मुमताज़ , देविका रानी से मिलीँ और "बसँत " फिल्म मेँ काम मिला तो फिल्मों में काम करने लगीं ..... १६ साल की कमसिन उमर से उन्हेँ लोग पहचानने लगे पर शोहरत मिली "महल " फिल्म से !
लता जी का गाया गीत " आयेगा आनेवाला " ने ही , मधुबाला को दर्शकोँ के दिलोँ पे राज करने के सफर पे पहला कदम रखवाया था।
मधु , सुबह , ७ बजे हाजिर हो जातीं और ६ बजे शाम को घर के लिए अपने अब्बा के संग , बंबई की लोकल ट्रेन से , चलीं जातीं थीं !॥
कई बार दिलीप कुमार जी भी उसी ट्रेन से सफर करते थे और मेरी अम्मा हलदनकर इन्स्टीट्युट मेँ चित्रकला सीख् रहीँ थीँ उन्हेँ भी युसुफ खान देख लिया करते थे और बोम्बे टाकीज़ जा कर पापा जी से कहते, " भैया आज मेरी होनेवाली भाभी को गुलाबी साडी पहने देखा था ! "
पापा पूछते "तुम वहाँ क्या कर रहे थे युसुफ ? " तो वो कहते , " भैया ! आप तो जानते हैँ, मैँ शूटीँग के लिये आ रहा था " .
..ये बहुत पुरानी बातेँ हैँ ॥
मधुबाला के अब्बा ने , शायद युसुफ खान और मुमताज़ जहान को ना मिलने दिया और मधुबाला और दिलीप कुमार पर्दे पर ही मोहोब्बत करते रहे
...असली जिन्दगी में , वे ना मिल पाये !
विवाह न कर पाये ।
हुस्न की मलिका , मधुबाला , आजतक , कई दिलों पे राज कर रहीं हैं लोग उन्हें , youtube पे , अपने तरीके से याद करते हैं , उनकी छवि को बार बार निहारते हैं ...जैसे ये http://www.youtube.com/watch?v=25SFO2Z352g&feature=related
और , ये लिंक देखिये , जहां , कान्हा को रिझाने की कहानी , उलाहना देने की अदा को अकबर के दरबार में पेश करते हुए , गाती , नाचती "अनारकली " को , हिन्दी सिने जग में , सदा के लिए अमर बनानेवाली मधुबाला ...का हुस्न !
जिसे , बरसों हो गए पर , आज तक , कोइ भूला नहीं ......
http://www.youtube.com/watch?v=fJOkkUOU7UQ&feature=रेलातेद
किशोर कुमार का हंसी मजाक करना मधुबाला की जिन्दगी में , ताज़ा हवा का झोंका बनकर आया ...वे बीमार थीं , ये उन्हें पता था , फिर भी अन्तिम दिनों तक , अपने परिवार के साथ ही रहीं और सभी की देखभाल भी करतीं रहीं ।
ये उनकी फिल्में हैं :
बसंत - १९४२ (बेबी मुमताज़ )
मुमताज़ महल - १९४४ (बेबी मुमताज )
धन्ना भगत - १९४५ (बेबी मुमताज )
पुजारी - १९४६ (बेबी मुमताज )
फुलवारी - १९४६ (बेबी मुमताज )
राज्पुतानी - १९४६ (बेबी मुमताज )
चितोड़ विजय - १९४६ * राज कपूर हीरो
दिल की रानी - १९४७
खूबसूरत दुनिया - १९४७ *
मेरे भगवन - १९४७ *
नील कमल -१९४७ * राज कपूर
अमर प्रेम - १९४८ * राज कपूर
परायी आग - १९४८ * मुनवर सुल्ताना
लाल दुपट्टा - १९४८
अपराधी - १९४९
दौलत - १९४९
दुलारी - १९४९ * गीता बाली
इम्तिहान - १९४९
महल - १९४९ * अशोक कुमार
नेकी और बड़ी - १९४९ * गीता बाली
सिंगार - १९४९ * सुरैया
सिपहिया - १९४९
पारस - १९४९ * कामिनी कौशल
बेक़सूर - १९५०
मधुबाला - १९५० * देव आनंद
हँसते आंसू - १९५०
परदेस - १९५०
निराला - १९५० * देव आनंद
निशाना - *१९५० * अशोक कुमार
आराम * - १९५१ * देव आनंद
बादल - १९५१ * प्रेमनाथ
ख़जाना - १९५१
सैयाँ - १९५१
तराना - १९५१ * दिलीप कुमार
नाजनीन - १९५१
नादान - १९५१ * देव आनंद
संगदिल - १९५२ * दिलीप कुमार
साकी - १९५२ * प्रेमनाथ
रेल का डिब्बा - १९५३ * शम्मी कपूर
अरमान - १९५३ * देव आनंद
अमर - १९५४ * दिलीप कुमार
बहुत दिन हुवे - १९५४
मिस्टर एन मिसेज़ ५५ - १९५५ *गुरु दत्त
नकाब - १९५५ * शम्मी कपूर
तीरंदाज़ - १९५५
नाता - १९५५
राज हट - १९५६ * प्रदीप कुमार
शीरीं फरहाद - १९५६ * प्रदीप कुमार

ढाके की मलमल - १९५६ * किशोर कुमार
यहूदी की लड़की - १९५७ * प्रदीप कुमार
गेटवे ऑफ़ इंडिया - १९५७ * भारत भूषण
एक साल - १९५७ * अशोक कुमार
बागी सिपाही - १९५८
चलती का नाम गाडी - १९५८ * किशोर व अशोक कुमार
पुलिस - १९५८ * प्रदीप कुमार
फागुन - १९५८ * भारत भूषण

हावडा ब्रिज - १९५८ * अशोक कुमार
काला पानी - १९५८ * देव आनंद
दो उस्ताद - १९५९ * राज कपूर
कल हमारा है - १९५९ * भारत भूषण
इंसान जाग उठा - १९५९ * सुनील दत्त
महलों के ख्वाब - १९६० * किशोर कुमार
बरसात की रात - १९६० * भारत भूषण
मुग़ल -ऐ -आजम - १९६० * दिलीप कुमार
जाली नोट - १९६० * देव आनंद
बॉय फ्रेन्ड- १९६१ * शम्मी कपूर
झुमरू - १९६१ * किशोर कुमार
पासपोर्ट - १९६१ * प्रदीप कुमार
हाफ टिकेट - १९६२ * किशोर कुमार
शराबी - १९६९ * देव आनंद
ज्वाला - १९७१ * सुनील दत्त
चालाक - * राज कपूर - Incomplete Movie
यह बस्ती यह लोग * बलराज साहिनी - Incomplete Movie

http://www.bbc.co.uk/hindi/entertainment/story/2008/03/080319_madhubala_stamp.shtml

8 comments:

Udan Tashtari said...

बहुत उम्दा जानकारी. आभार.

Harshad Jangla said...

No other actress had a photogenic face like Madhubala.
Wonderful blog.
Nice links.
Thanx. Rgds.
-Harshad Jangla
Atlanta, USA

Gyandutt Pandey said...

वाह, लिंक्स, जानकारी और भूतकाल की याद से सराबोर पोस्ट।
जाने कैसे उस समय के गीत इतने मधुर होते थे?!

DR.ANURAG ARYA said...

आह आपने सुन्दरता की इस देवी को याद कर दिया जो ब्लैक एंड w के ज़माने मे भी इतनी परी सी लगती थी ,दुर्भाग्य से उनके आखिरी दिन मुश्किल मे बीते ....ओर यहाँ किशोर कुमार एक विलेन जैसे दिखे...... ......

mamta said...

बहुत ही बढ़िया पोस्ट।

मधुबाला जैसी कलाकार बस एक बार ही जन्म लेती है।

अभिषेक ओझा said...

"हुस्न की मलिका , मधुबाला , आजतक , कई दिलों पे राज कर रहीं हैं लोग उन्हें , youtube पे , अपने तरीके से याद करते हैं , उनकी छवि को बार बार निहारते हैं ." इन कई लोगों में एक नाम हमारा भी है.

pallavi trivedi said...

sachmuch madhubala ki khoobsurti ek misaal hai...aapne yaad taza kara di!shukriya..

Lavanyam - Antarman said...

आप सभी का सच्चे मन से आभार -
- लावण्या