Tuesday, September 25, 2007

गेटी म्युझीयम, केलीफोर्नीया प्राँत के लोस ~ एन्जीलीस शहर मेँ बनाया गया , एक बेहद खूबसुरत सँग्रहालय है.

गेटी म्युझीयम, केलीफोर्नीया प्राँत के लोस ~ एन्जीलीस शहर मेँ बनाया गया , एक बेहद खूबसुरत सँग्रहालय है.हम लोग मतलब मैँ और मेरे पति दीपक १९७४ से लेकर १९७६ तक अमेरीका के इसी शहर मेँ रहा करते थे.दीपक अपनी उच्च शिक्षा मेँ व्यस्त रहते थे तो पडौस मेँ रहनेवाली एक मुझसे ऊम्र मेँ बडी महिला अक्सर अपने साथ नये शहर के विभिन्न आकर्षणोँ की सैर कराने, अपनी बडी कार में
ले जाया करती थी.
एक बार हम लोग गेटी म्युझीयम देखने गये थे जो पहले "सान्टा मोनिका " नाम के इलाके में ठीक पेसेफिक महासमुद्र के सामने एक ऊँचे टीले पर हुआ करता था. यह ग़ेटी महोदय की ऐस्टेट है.
फिर हम लोग भारत लौट गये और तब एक समाचार पढे थे कि ये गेटी सँग्रहलाय दूसरे स्थान पर स्थानाँतरित कर दिया गया है.इस बार,गत सप्ताह दुबारा उसे देखने का मौका मिला और बडी प्रसन्नता हुई. कुछ चित्र : ~~
चारोँ तरफ पहाडीयोँ से घिरा यह सँग्रहलाय अत्यँत रमणीय है.ौपर तक पहुँचने के लिये झक्क सुफेद ट्राम पे सवार होकर, जाया जाता है.
गेटी म्युझीयम का आकर्षक प्रवेश - द्वार
"लोस - ऐन्जीलीस " शहर नेपथ्य मेँ दूर तक फैला हुआ दीखाई देता है
जो अमरीका का सबसे विशाल शहर है

एक खुला हवादार, व्युँइँग प्लेटफोर्म,

"ठँडी हवायेँ लहरा के आयेँ "

ये गीत गुनगुनाने का मन हो जाये ऐसा हसीन समाँ था

4 comments:

Udan Tashtari said...

बढ़िया. कम से कम म्यूजियम के बाहर से दर्शन हो गये. अन्दर क्या है?? जरा उसकी तस्वीरें भी पेश की जायें.

आभार इस प्रस्तुति का.

mamta said...

बहुत सुन्दर फोटो है। संग्रहालय के अन्दर की फोटो का इंतज़ार रहेगा।

Neelima said...

समीर जी जो कह रहे हैं जरा उअसपर गौर किया जाए और पूरी तस्वीरें दिखाऎ :)

Lavanyam - Antarman said...

नीलिमा जी, ममता जी, समीर भाई,
आप की बात भला कैसे टाल सकती हूँ हम्म्म ?
लीजिये ~~ नई प्रविष्टी तैयार है ~~
स ~~स्नेह,
-- लावण्या