Wednesday, July 30, 2008

"लोस एंजिलिस " : शानदार शहर का परिचय

LAX......लोस एंजिलिस शहर का ही नहीं विश्व का सबसे व्यस्त और विशालतम एअर पोर्ट है परन्तु इस शहर में कई दूसरे भी विमान स्थल है जैसे बर्बेन्क इलाके का ये हास्य कलाकार
" बोब होप " के नाम से पहचाना जाता विमान स्थल जहाँ आप १५ मिनटों में , आपका बैग लेकर बाहर आ पाते हैं बनिस्बत LAX एअर पार्ट के, जहाँ से बैग लेकर बाहर आते आते, ३ घंटे तो हो ही जायेंगे ...अगर आपको कहीं के लिए विमान लेना है तब तो ३ से ४ घंटे या ५ भी , घंटे पूर्व ही आप , लोस एंजिलिस के प्रमुख एअर पोर्ट के लिए अवश्य निकलें ...अन्यथा , आपका विमान , आपके बिना ही उड़ जाने की नौबत आ सकती है !!
...हमें मुख्य हवाई अड्डे से ही , कोन्नेक्टिंग उड़ान लेनी थी ...अत: हम ३ घंटे पहले निकले और नोआ जी साथ थे इसलिए , हवाई अड्डे के भीतर भी लिफ्ट से , ऊपर या नीचे जाना था इस कारण , लम्बी लम्बी , कतारों से , बच गए ! :-)
...लोस एंजिलिस के प्रमुख हवाई अड्डे के भीतर , आपको विश्व के हर देश और प्रांत से हर तरह की विमान सेवा के विमान कतार बध्ध खड़े दीखलाई देंगे टेक ऑफ़ के लिए २० से ज्यादा प्लेन खड़े होंगें ..और हवाई अड्डे के भीतर ही , अपने गेट तक , आने के लिए असंख्य स्व चालित सीढीयाँ , एस्केलेटर और उस तक पहुँचने के लिए , अन्दर ही चलतीं ट्रेन में भी सवारी करनी पड़ती है
हमारा कोन्नेक्टिंग एअर पोर्ट था दक्षिण दिशा में बसा अटलांटा शहर जो जार्जिया प्रांत की राजधानी है। ये एअर पोर्ट भी अति बृहदाकार का है और वहाँ भी हमें इसी तरह एअर पोर्ट के भीतर ट्रेन से सवारी करनी पडी और एस्केलेटर या एलेवेटर या लिफ्ट से भी फासला तय करना पडा ( अमरीकी लिफ्ट के बजाय एलेवेटर ही कहते हैं और टैक्सी को कैब ही बुलाते हैं) --
एक " स्ट्रीट सिंगर " -- जिसे घेरे हुए, ये कन्याएं , बेल्जियम से आयीं थीं।
बाजार खुला हुआ था जहाँ बीचोंबीच , कई सारी गतिविधियाँ , मनोरंजन और मन बहलाव के लिए , सतत , चलतीं थीं ॥व्यस्त शहर के बीच बीच , फार्म फ्रेश , फल और सब्जियों की दुकाने भी तम्बू लगाकर बेच रहे थे और सारे फल ओर्गानिक, रसीले और बड़े आकार के थे ...
आजकल पीच , संतरा, नारंगी , एप्पल, अंगूर, फिग ( अंजीर ) शहतूत, चेरी , टमाटर, इत्यादी बहुत बड़ी मात्रा में , बाज़ार में आए हैं ...और उनसे बने , रस को सलाद के ड्रेसिंग में भी उपयोग में लिया जाता है - जैसे पीच के रस में मिर्च मिलाकर वो रस सलाद पे डालते हैं और यहाँ सलाद बहुत ज्यादा परोसा जाता है -- भोजन के पहले सलाद अवश्य खाते हैं --


हम ने घूमना शुरू किया ही था और दीखलाई दीं , दूकान की शोभा बढाती हुई पुतलियाँ या मॉडल .....

परिधान का विज्ञापन करते हुए ये , इस तरह दीखलाई दीं ....

और कार से , इस गली के नज़दीक से गुजरे तो जिज्ञासा हुई ,

की हम भी पता करें , के , यहाँ के घरों की कीमत क्या होगी ? ...

ये इलाका " सन - सेट बुलुवार्ड " के नाम से मशहूर है और लोस एंजिलिस शहर के शानदार और मंहगे इलाकों में इस एरिया का नाम है कई होलीवुड से सम्बंधित लोग यहाँ आबाद हैं ....

हरियाली से भरा , मनोरम फूलों से हर बाग़ सजा , कलात्मक , एक दूस्ररे से अलग डिजाईन लिए , मुख्य द्वार , ऐसे , दरवाजे और डिजाईन से सजे सुंदर घर , देखते ही रहो ..इतने सुंदर हैं।

३ .८ मीलियन की आबादी वाला , शेहेर के मुख्य हिस्से में १२ .९ मिलियन नागरिक हैं जो दुनिया की तकरीबन , २२४ भाषाएँ बोलते हैं।


ये अमरीका का दुसरे नंबर पे आनेवाला ये शहर , १ ,२९० .६ km² में फैला हुआ है जो अप्रैल ४ , १८५० में म्युनिसिपल बना।


दक्षिण पेसेफिक महासागर के साथ साथ चलता ये विशाल शहर , टेलिविज़न, रेडियो, दूर संचार , व्यवसाय का केन्द्र तो है ही साथ में

" हॉलीवुड " विश्व के सिने संसार के लिए भी यह जग विख्यात है -

और जग प्रसिध्ध युनिवर्सिटीज़् के लिए भी मशहूर है --

UCLA -- और
USC बहुत प्रसिध्ध हैं --

पेपर्डाइन युनिवर्सिटी मेँ तैराकी और स्कुबा डाइवीँग विषय भी पाठ्यक्रम् मेँ शामिल हैँ और ये पेसेफीक महासागर के बिलकुल सामने बसा हुआ रमणीय विश्व विद्यालय है ।


और दूसरी जानकारी के लिए देखें : ~~~



$531,534
2 br ba 841 sqft
Single-Family Home
From: http://www.trulia.com/transfer.php?s_id=10287901&p_id=1060934032&t_id=odpt4
Listing Type: Resale
Status: For Sale
Year Built:
Price/sqft: $632
Lot Size:
Days on Market: Just added
ZIP Code: 90049
Neighborhood: Brentwood
Additional Info: Prior sale history, Assessor records


पाम के पेड़ -- ये लोस एंजिलिस शहर की विशेषता है, यहाँ आकाश तक पहुँचते हुए ऐसे पेड़ , नीले आसमान से बातें करते हुए मानो ऊपर देखने के लिए बाध्य कर देते हैं !

अकसर जहाँ घर होते हैं वहाँ कार की गति बहुत धीमी राखी जाती है ..फ्री वे पे ६५ या ७० मील की स्पीड से गाडियां दौड़तीं हैं !

चलिए, आज इतना ही ...लोस एंजिलिस शहर १९७४ से १९७६ तक हमारा शहर रहा है और आज भी , अपना - सा लगता है जैसे बंबई भी ! जहाँ इतने साल गुजारें हों वह शहर अपना ही लगता है ना ! ..इसलिए मन किया आप से भी इस शानदार शहर का परिचय करा दूँ ...आशा है आपको भी Los Anjeles पसंद आया !



26 comments:

Harshad Jangla said...

Lavanyaji

Nice description.My previous suggestion of compilimg all your Pravas-Varnan in a booklet stands true today too.
Thanx & Rgds.
-Harshad Jangla

रंजना [रंजू भाटिया] said...

वाह सैर हो गई सुबह सुबह आपके इस लेख को पढने से ..बहुत अच्छे से लिखा है आपने इसको ..

Lavanyam - Antarman said...

Thank you Ranjana ji & Harshad bhai -
If you like it, all my efforts r worth the hard work --

I appreciate your suggestions Harshad bhai & will deffinately compile my Travelogues in a Book form.

Thank you for your suggestions & comments.
With Warm Rgds,
Lavanya

दिनेशराय द्विवेदी said...

यूपीएस की बैटरी समाप्त, एक बार टिप्पणी होते होते मामूली स्पार्किंग से कम्प्यूटर बंद हो गया।
मेरे लिए अनेक नई जानकारियाँ हैं इस आलेख पर। और आप का हवाई अड़्डा वर्णन ऐसा कि चन्द्रकांता की कोई तिलिस्मी दृष्य याद आ रहा है। हाँ आप वहाँ की सम्पत्ति की कीमतें पूछ कर लिख देतीं तो अनुमान होता कीमतों का।

Parul said...

di,humey bhi ghumaa layin aap...thxxxx...aur ye guldastey vaali baalaa ka chitr bhi bada munmohak hai..

कुश एक खूबसूरत ख्याल said...

हमेशा की तरह लाजवाब.. तस्वीरे भी कमाल है

कुश एक खूबसूरत ख्याल said...

हमेशा की तरह लाजवाब.. तस्वीरे भी कमाल है

अभिषेक ओझा said...

अच्छी जानकारी और चित्रों के लिए आभार ! लाजवाब पोस्ट !

बाल किशन said...

बहुत पसंद आया जी बहुत पसंद आया.
शानदार तस्वीरों के साथ जानदार पोस्ट.
आभार.

महामंत्री-तस्लीम said...

आपकी पोस्ट पढ कर लॉस एंजिलिस घूमने का मजा मिल गया। कभी हमारे पास $531,534 डॉलर हुए, तो हम भी फलैट के बारे में सोचेंगे।

अनुराग said...

लाजवाब.. तस्वीरे भी कमाल है ओर आपकी मेहनत भी ,फोटो कितने मेगा पिक्स़ल से लिये गये है ?

नीरज गोस्वामी said...

लावण्य जी
आप के साथL.A. घूम के आनंद आया और पुरानी यादें तजा हो गयीं...एअरपोर्ट पर देरी की वजह से हम एक बार अपना विमान मिस कर चुके हैं....
नीरज

Gyandutt Pandey said...

एक " स्ट्रीट सिंगर " -- जिसे घेरे हुए, ये कन्याएं , बेल्जियम से आयीं थीं।
----------------
काश मैं भी स्ट्रीट सिंगर होता - लॉस एंजेलेस में! :-)

Manish Kumar said...

Palm ke ped waqai behad khoobsurat lage. Is jaankaari ke liye aabhar.

मीनाक्षी said...

चित्र और चित्रण दोनों सजीव आँखों के सामने उभर आए..

Lavanyam - Antarman said...

अनुराग भाई,
४.१ मेगा पीक्सल का केमेरा है और मेक सोनी का साइबर शोट है --

Lavanyam - Antarman said...

दिनेश भाई जी,
आपने पढ लिया होगा शायद अब तक -सम्पत्ति की कीमत २ बेडरुमवाले , छोटे परिवार के लिये
घर होते हैँ उसकी कीमत
ब्रेन्टवुड ऐरिया मेँ है वह लिखी है -
चँद्रकाँता पढने का बहुत मन है -
कहीँ से खरीदनी होगी -
सुना है
अमिताभ जी उसकी पटकथा पे फिल्म बनाने की योजना बना रहे हैँ-

Lavanyam - Antarman said...

Thanx Parul...haan, kitni sunder hai na ye Kanya :-)
Ye ek Shadi ke liye Bridesmaid - Bride ki khaas saheli ke Role ke liye taiyyar huee hai --
Yehan kayee Ladkiyaan behad khoobsurat hoteen hain --
Ishwar ne unhe, Roop Rang aur sharirik tandurastee
behtar dee huee hai -
Sneh,
Lavanya

Lavanyam - Antarman said...

धन्यवाद कुश भाई
स्नेह,
-लावण्या

Lavanyam - Antarman said...

आपका भी धन्यवाद अभिषेक भाई !
स्नेह,
-लावण्या

Lavanyam - Antarman said...

और आपका भी धन्यवाद
बाल कीशन जी !
स्नेह,
-लावण्या

Lavanyam - Antarman said...

हाँ महामँत्री तस्लीम जी -
खुदा करे ,
आप वैसे एक दर्जन फ्लेट खरीद लेँ और दोस्तोँ को बाँट देँ -
हमारी दुआएँ आपके साथ हैँ !
स्नेह,
-लावण्या

Lavanyam - Antarman said...

नीरज जी क्या आप भी
लोस - एन्जिलिस घूमे हैँ पहले ?
तब तो आपको ये सारी जगहोँ के बारे मेँ पता ही होगा -
स्नेह,
-लावण्या

Lavanyam - Antarman said...

हाँ क्योँ नहीँ ...एक पोस्ट इसी कीरदार को निभाते हुए क्योँ ना लिख देँ ज्ञान भाई साहब?
"Me - a स्ट्रीट सीँगर
ओन स्ट्रीटज़ ओफ
लोस - एन्जिलिस ?"
स्नेह,
-लावण्या

Lavanyam - Antarman said...

मनीष भाई,
आपकी तरह
यात्रा विवरण लिखना
मुझे भी भाता है !
स्नेह,
-लावण्या

Lavanyam - Antarman said...

बहुत बहुत आभार
आप आईँ और
आपने टीप्पणी दी मीनाक्षी जी !
स्नेह,
-लावण्या